अडानी पॉवर शेयर का भविष्य में टारगेट – 2023, 2024, 2025, 2030

आज हम बात करने वाले है अडानी पॉवर शेयर का भविष्य में कैसा प्रदर्शन करने वाला है। आज इस आर्टिकल में हम आपको अडानी पॉवर कंपनी की जानकारी, अडानी पॉवर की सहायक कंपनिया, अडानी पॉवर शेयर का भविष्य – 2023, 2024, 2025, 2030, अडानी पॉवर शेयर का मूल्य कितना बढेगा, अडानी पॉवर और टाटा पॉवर में किसे लांग-टर्म के लिए चुने। अडानी पॉवर शेयर का भविष्य के विषय में हम आपको शेयर मार्केट का विश्लेषण करने के बाद पूरी जानकारी उपलब्ध करा रहे है।

Highlights

अडानी पॉवर शेयर का भविष्य के विषय में और उससे जुडी संपूर्ण जानकारी प्राप्त करने के लिए कृपया आर्टिकल को पूरा पढ़े और अगर पसंद आए तो अपने मित्रो के साथ शेयर करे और इस आर्टिकल से जुड़े सुझाव  और सवाल कॉमेंट बॉक्स में दें।

अडानी पॉवर शेयर का भविष्य

अडानी पॉवर कंपनी की कुछ जानकारी

अडानी पॉवर शेयर का भविष्य-अडानी पॉवर नाम की यह कंपनी जानेमाने बिजनेस मेन गौतम अडानी के अडानी ग्रुप का ही एक भाग है, जो एक प्राइवेट थर्मल पॉवर उत्पादन करने वाली संस्था है यह कंपनी नलिया गुजरात में 40 मेगावाट वाला प्लांट सोलर पॉवर पर आधरित है, इसके होने से हमारा देश भी इस फ़ील्ड में आत्मनिर्भर हुआ है इस कंपनी की स्थापना श्री गौतम अडानी द्वारा 22 अगस्त 1996 को अहमदाबाद, गुजरात में की गई थी।

यह कंपनी 12,450 मेगा वाट की सोलर ऊर्जा उत्पादन की क्षमता रखती है और यह देश के विभिन्न राज्यों में सोलर ऊर्जा के उत्पादन से सम्बंधित परियोजनाए चलाती है यह कंपनी झारखण्ड में 1,600 मेगावाट का सयंत्र लागु करने वाली है।

अडानी पॉवर शेयर का भविष्य
अडानी पॉवर का भविष्य क्या है?

अडानी पॉवर शेयर का भविष्य दोस्तों अगर आप अडानी पॉवर शेयर में निवेश करने के विषय में सोच रहे है या कर चुके है तो आपका मन होगा के अडानी पॉवर शेयर का भविष्य कैसा रहने वाला है और यह आपका बहुत ही अच्छा फेसला होने वाला है क्योकि आज के टेक्नोलॉजी के बढ़ते दोर में जिस रफ़्तार से टेक्नोलॉजी का विकास हो रहा है उसको ध्यान में रखते हुए देखा जाये तो इलेक्ट्रीसिटी की मांग फ्यूचर में बढ़ने वाली है,

और अडानी पॉवर का इलेक्ट्रीसिटी के में फ़ील्ड होना बहुत ही अच्छा संकेत है जिससे यह साफ-साफ अनुमान लगाया जा सकता है की अडानी पॉवर का शेयर बाज़ार के अंदर भविष्य में कैसा प्रदर्शन रहने वाला है।

अडानी पॉवर की सहायक कंपनीयाअडानी पॉवर शेयर का भविष्य

  • (अक्षय ऊर्जा उत्पादन) Renewable Power Generation
  • (सौर पीवी विनिर्माण) Solar PV Manufacturing
  • (पोर्ट और टर्मिनल) Ports and Terminals
  • (लोजिस्टिक्स) Logistics
  • (ऐग्री लोजिस्टिक्स) Agri Logistics
  • (विद्युत पारेषण) Power Transmission
  • (ऊर्जा वितरण) Power distribution
  • (गैस वितरण) Gas Distribution
  • (रक्षा और एयरोस्पेस) Defense and Aerospace
  • (खाद्य तेल और खाद्य उत्पाद) Edible Oil and Food Products
  • (फल) Fruits
  • (रियल एस्टेट) Real Estate
  • (निजी हवाई अड्डे) Private airports 
  • (सड़क, मेट्रो और रेल) Road, Metro, and Rail 

अडानी पॉवर शेयर का भविष्य 2023-2024 में कैसा होगा

जैसा की आप लोग जान ही चुके है अडानी पॉवर शेयर का भविष्य कैसा रहने वाला है जैसा की आप जानते ही चुके की अडानी पॉवर गौतम अडानी के अडानी ग्रुप की ही एक कंपनी है तो आगे जानते है की अडानी पॉवर शेयर प्राइस 2023-2024 में क्या टारगेट रहने वाला है अडानी ग्रुप के सीईओ गौतम अडानी  तथा शेयर बाज़ार के कुछ एनालिटिक्स की माने तो अडानी पॉवर शेयर प्राइस 2023  आखिर तक इसका टारगेट 400.80 रूपये तक पहुच सकता है

अडानी पॉवर का पिछले वर्ष का REVENUE 27,711 CR रहा है पिछले गत वर्षो में बाज़ार में कंपनी की इक्विटी 18.12%  से घटकर 15.9% हो गई है परन्तु यदि हम कंपनी की 2022 की नेट वर्थ देखे तो वह 2021 के नेट वर्थ 13,113 CR  से बढ़कर 2022 में 18,703 CR हो गयी है।

अडानी पॉवर शेयर का भविष्य 2025-2026 में कैसा होगा

वित्तीय वर्ष 2021-2022 में के अनुसार विशेषज्ञों की माने तो अडानी पॉवर शेयर का मूल्य  400.80 रूपये आँका गया है परन्तु जिस तरह कंपनी का प्रॉफिट बड़ते हुए सामने आ रहा है उसे देखे तो 2025-2026 में शेयर का मूल्य भी बढता हुआ दिखाई दे रहा है इसको देखकर लगता है की अडानी पॉवर शेयर का भविष्य कैसा रहने वाला है शेयर बाज़ार के कुछ जानेमाने ब्रोकर्स द्वारा एक सूचि जारी की गयी जिसमे उनके एनालिटिक्स ऐसे स्टॉक्स पर नजर रखते है

जो उन्हें भविष्य में अच्छा प्रॉफिट देने वाला हो जिसमे अडानी ग्रुप का अडानी पॉवर भी शामिल है तो यही वो सब कारण है जिसकी वजह से अडानी पॉवर की तरफ लोगो का रुझान बढ़ रहा है तो देखा जाये 2025-2026 में शेयर का प्राइस 800 रूपये बताया जा रहा है।

अडानी पॉवर शेयर का भविष्य 2027-2030 में कैसा होगा

जिस प्रकार अडानी पॉवर शेयर का भविष्य सुनहरा लग रहा है उससे यह अंदाज़ा लगाया जा रहा है की वितीय वर्ष 2030 में अडानी पॉवर का शेयर 1900 से 1950 रूपये पहुचेगा ऐसा बताया जा रहा है नवंबर में अडानी पॉवर का शेयर मूल्य 3.64% और 0.75% से गिरकर निचे आया है लेकिन इसका मतलब यह बिलकुल नही है की अडानी पॉवर लिमिटेड का शेयर मूल्य कम हो जायेगा या गिर जायेगा और ये सब तो आप सब जानते ही होंगे की शेयर बाज़ार का सिर्फ अनुमान ही लगाया जा सकता है।

क्या अडानी पॉवर T2T शेयर है?

पहले आपको बताते है की T2T शेयर होता क्या है जब कभी आप BSC  या NSC का नोटिस पेज खोलेंगे तो आप वह एक सूची पाएंगे जिसमे कुछ कंपनीज को Trade-To-Trade  भागो में बाँटा गया है और अडानी पॉवर को भी इस भाग की सूची में रखा गया है और यह कोई खास बात नही है इसमें और भी बहुत सी जानीमानी कम्पनीया शामिल है तो यह भी एक अच्छा संकेत है अडानी पॉवर शेयर का भविष्य के लिए।

क्या अडानी पॉवर शेयर का मूल्य बढ़ेगा?

भारत के ग्रीन-एनर्जी के सेक्टर में अडानी पॉवर एक बढती हुई कंपनी के रूप में सामने आयी है अडानी पॉवर शेयर का भविष्य भी अच्छा लग रहा है और इन दिनों सरकार भी सॉलर-एनर्जी के सेक्टर में अपना रुझान दिखाती नजर आ रही है उस नजरीये से देखा जाये तो अडानी पॉवर शेयर का भविष्य में काफी फायदा या कहे तो यह स्टॉक काफी लाभ देकर जाने वाला साबित हो सकता है

और सिर्फ यही नही इस फील्ड के सम्बंदित सभी स्टॉक्स पर अगर सही से एनेलाईस किया जाये किया और लगातार उससे जुड़े आर्टिकल हमारे वेबसाइट पर पहले से उपलब्ध है उन्हें पढ़कर जानकारी ली जाये तो वह भी अच्छा मुनाफा देकर जा सकते है।

गोतम अडानी ने तिमाही रिजल्ट पर क्या कहा?

कंपनी के तिमाही (QUARTERLY) रिजल्ट में श्री अनिल सरधना, मनेज़िंग डायरेक्टर ऑफ़ अडानी लिमिटेड ने मिडिया को क्या कहा ? आइये जानते है अडानी पॉवर लिमिटेड. ने हाल ही में हुई एक मीटिंग में कहा गया है कि अडानी पॉवर शेयर का भविष्य आने वाले समय में लाभदायक होने वाला है और अडानी पॉवर भारत में सबका-साथ सबका-विकास के दृष्टीकोण को ध्यान में रखकर एक कोस्ट-इफेक्टिव और विश्वसनीय बिजली आपूर्ति को पूरा करने वाले सपने को वास्तविकता में बदलने की दिशा में आगे बढ़ रहा है

और उनका कहना है कि जैसे-जैसे हम अपनी फोर्थ-पॉवर-एसेट को पाने के लिए आगे बढ़ रहे है वैसे-वैसे हम अपने पोर्टफोलियो को सुरक्षित, विश्वसनीय, अनुमानित, और लाभदायक बनाने पर ध्यान दे रहे है।

अडानी पॉवर VS टाटा पॉवर फॉर लांग-टर्म किसको चुने?

अगर आप अपने पैसे को लम्बे समय के लिए किसी सुरक्षित शेयर में निवेश करना चाह रहे है और आपके मन में भी यही सवाल घूम रहा है के उसको कहा निवेश करे, कोनसा शेयर आपको फायदेमंद साबित होगा तो जानने पहले आपको यह देखना होगा के उस कंपनी के विरोध में कौन-कौन है तो इसी तरह अडानी पॉवर शेयर का भविष्य जानने से पहले आपको जानना होगा के उसके विपरीत कौन-कौन है तो यह सब जानने की लिए आर्टिकल को पूरा पढ़े, जैसा की आप लोग जानते ही होंगे की अडानी पॉवर और टाटा पॉवर दोनों ही इलेक्ट्रिसिटी से सम्बंधित कंपनिया है

और दोनों ही पुरानी कंपनिया है और दोनो ही कंपनिया अपने शिखर पर मोजूद है तो देखा जाये तो दोनों ही कंपनी पूरी तरह से लाभदायक सिद्ध होने वाली है चाहे आप किसी भी कंपनी में निवेश करे और निवेश करने से पहले थोडा अपने बिनाह पर रिसर्च करे।

अडानी पॉवर शेयर से जुड़े कुछ F.A.Q.

अडानी ग्रुप का मालिक कौन है?

अडानी पॉवर शेयर और अडानी ग्रुप के फाउंडर और मालिक श्री गौतम अडानी है अडानी कंपनी की शुरुआत 20 जुलाई 1988 को गौतम अडानी ने की थी।

अडानी ग्रुप का व्यापार किस-किस फ़ील्ड में है?

अडानी कंपनी का व्यापार, कोयला खनन, कच्चा तेल एवं गैस खोज़े, पोर्ट्स, लोजिस्टिक्स, बिजली उत्पादन एवं गैस वितरण जैसे अनेकों व्यापारों में अपना दबदबा बनाये हुए है इसके ही जैसे अनेकों बिज़नेस है जिसमे अडानी ग्रुप ने अपना लोहा मनवाया है।

अडानी पॉवर का प्लांट कहाँ-कहाँ है

अडानी पॉवर के अनेकों प्लांट है जिनमे से हम कुछ के बारे में बताने वाले है जैसे एक प्लांट गुजरात के मुद्रा राज्य में बना हुआ है।

अडानी पॉवर शेयर का भविष्य

गुजरात अडानी पॉवर प्लांट इन मुद्रा

अदानी पावर ने मुंद्रा में 660 MW जनरेटिंग यूनिट पर आधारित पहली सुपर-क्रिटिकल टेक्नोलॉजी को सिंक्रोनाइज़ करके इतिहास रच दिया। यह भारत की पहली सुपर क्रिटिकल जनरेटिंग यूनिट है। मुंद्रा बिजली परियोजना देश में किसी भी बिजली डेवलपर द्वारा अब तक का सबसे तेज परियोजना साबित हुआ है, जिसने 36 महीनों के भीतर तुल्यकालन की शुरुआत के रिकॉर्ड को पूरा किया है।

सुपरक्रिटिकल तकनीक पर आधारित मुंद्रा परियोजना के तीसरे चरण को यूनाइटेड नेशंस फ्रेमवर्क कन्वेंशन ऑन क्लाइमेट चेंज (यूएनएफसीसीसी) से ‘क्लीन डेवलपमेंट मैकेनिज्म (सीडीएम) प्रोजेक्ट’ प्रमाण प्राप्त हुआ है। यह यूएनएफसीसीसी के तहत सीडीएम परियोजना के रूप में पंजीकृत होने वाली सुपरक्रिटिकल तकनीक पर आधारित दुनिया की पहली थर्मल परियोजना है।

अडानी पॉवर शेयर का भविष्य

झारखंड अडानी पॉवर प्लांट इन गोड्डा

झारखंड के गोड्डा राज्य के अडानी पावर प्लांट (Adani Power Plant) में आगामी दिसंबर महीने में प्रोडक्शन शुरू हो जाएगा. कुल 1600 मेगावाट की क्षमता वाले इस प्लांट की शत-प्रतिशत बिजली बांग्लादेश को भेजी जाएगी. शर्तों के मुताबिक इस प्लांट से उत्पादित बिजली  का 25 फीसदी हिस्सा झारखंड को दिया जाना है. अडानी ग्रुप झारखंड को दी जाने वाली ये 400 मेगावाट बिजली एनटीपीसी (NTPC) से खरीदकर उपलब्ध कराएगा.

हालांकि, झारखंड को मिलने वाली बिजली कैसे और किस दर पर मिलेगी, इसपर स्थिति अभी पूरी तरह स्पष्ट नहीं हो सकी है. अडानी ग्रुप के प्रमुख गौतम अडानी (Gautam Adani) ने बांग्लादेश की राष्ट्रपति शेख हसीना से मुलाकात के बाद ट्विट किया है कि आगामी 16 दिसंबर यानी बिजोय दिवस से बांग्लादेश को गोड्डा स्थित पावर प्रोजेक्ट से बिजली की सप्लाई शुरू कर दी जाएगी।

अडानी पॉवर का रिव्यू

अडानी पॉवर की रिव्यू के विषय में बात करे तो जानीमानी वेबसाइट (www.ambitionbox.com) पर अडानी ग्रुप और अडानी पॉवर दोनो कंपनियों के एंप्लॉयज ने अपने-अपने मत दिए है जिनको पढ़कर ये पता चलता है की अडानी पॉवर अपने (स्किल डेवलपमेंट) वातावरण के लिए मशहूर है और इसको 4.0 की रेटिंग मिली है और वर्क-लाइफ में सामजस्य बैठाने के लिए सबसे कम 3.7 की रेटिंग दी गयी है लेकिन इसको बेहतर बनाने के लिए वो इस पर निरंतर कार्य कर रहे है।

क्या अडानी पावर मल्टीबैगर कंपनी है?

क्या अडानी पॉवर एक मल्टीबैगर कंपनी साबित हो सकती है तो आइये पहले जानते है की मल्टीबैगर कंपनीज होती क्या? है शेयर बाज़ार की इस दुनिया में कुछ कंपनी ऐसी भी होती है जो एक तय समय में अपने निवेशको को कई गुना मुनाफा प्रदान करती है ऐसे स्टॉक या शेयर को शेयर बाज़ार में मल्टीबैगर कंपनीज कहा जाता है और अब सवाल आता है की क्या अडानी पॉवर एक मल्टीबैगर कंपनी है या नही तो इसका जवाब है हाँ……जी……  हाँ अडानी पॉवर भविष्य में एक मल्टीबैगर कंपनी साबित हो सकती है और यह समय भी जल्द ही आने है।

अडानी पॉवर में निवेश का समय

किसी भी कंपनी में निवेश करने से पहले आपको यह सुनिश्चित करना चाहिए की वह कंपनी नुक्सान में है या फायदे में चल रही है उसका पिछले तीन महीने में प्रॉफिट कितना है पिछले सालो के मुकाबले इस साल वह कंपनी किस रफ़्तार से आगे बढ़ रही है इन सब बातो का ध्यान रखते हुए आपको किसी शेयर में निवेश करना चाहिए और अगेर बात करे अडानी पॉवर शेयर की तो इसके ग्राफ आप आर्टिकल में देख ही सकते है।

क्या अडानी पॉवर किसी कर्ज में है?

जी, हाँ अडानी पॉवर कर्ज मुक्त कंपनी नहीं है फिलहाल के समय में कंपनी के ऊपर काफी बड़ा कर्ज है। क्योंकि अदानी पावर बैंक से कर्ज लेकर नई नई प्रोजेक्ट में पैसे लगा रहा है और ऐसा देखकर लगता है कि कंपनी लंबे समय तक कर्ज के बोझ में डूबी रहेगी।

निष्कर्ष

दोस्तों उम्मीद करता हु आपको को मेरा यह आर्टिकल बेहद पसंद आया होगा और आपको इस आर्टिकल की मदद से पतंजलि फ़ूड शेयर भविष्य में कैसा रहने वाला है आपको अंदाज़ा हो गया होगा की आखिर किस तरह से यह शेयर आपको मुनाफा देने वाला है Read more https://stocksekhelo.com/ 

Disclaimer

यह लेख सिर्फ़ और सिर्फ़ एजुकेशन के उद्देश्य से ही लिखा गया है। अगर आप किसी भी स्टॉक में इन्वेस्ट करना चाहते है तो अपना खुद का एनालिसिस जरुर करे। और किसी एक्स्पर्ट का हेल्प जरुर ले किसी भी स्टॉक में इन्वेस्ट करने से पहले। क्यों की हर एक स्टॉक में रिस्क होता है।

Leave a Comment

You cannot copy content of this page